संदिग्ध हालात में विवाहिता की मौत

कासिमाबाद (गाजीपुर): थाना क्षेत्र के हसनपुर ग्राम पंचायत के करमुपुर गांव निवासी विवाहिता साधना (22) की संदिग्ध हालात में फंदे से लटकती लाश मिलने से सनसनी फैल गई। इस मामले में भाई सोनू ने तहरीर देकर साधना के पति अशोक, श्वसुर चंद्रिका प्रसाद व सास दुर्गावती पर दहेज हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

मरदह थाना क्षेत्र के बोगना गांव निवासी हरेंद्र राम ने अपनी पुत्री साधना की शादी 19 मई 2016 को कासिमाबाद थाना क्षेत्र के हसनपुर गांव निवासी चंद्रिका राम के पुत्र अशोक से की थी। उन्होंने अपने साम‌र्थ्य के अनुसार सामान भी दिया था। आरोप है ससुराल के लोग दहेज के लिए लगातार दबाव बनाते रहे। उनकी जो डिमांड होती थी हरेंद्र उसे पूरा करते थे। आरोप है कि उनकी मांग इतनी बढ़ गई कि वह साधना को उसके पिता से पांच मंडा जमीन बेचकर पैसा देने की बात कहने लगे ताकि उस पैसे से भी अपना घर बनवा सकें। मायके वालों के दावे के मुताबिक साधना ने ये बात मंगलवार की रात अपनी मां गुलाबी देवी व भाई सोनू को फोन करके बताई थी। आरोप है कि दहेज लोभियों ने रात में करीब दो बजे साधना की गला दबाकर हत्या कर दी। उसके शव को धरन से लटका दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा कि साधना फंदे पर लटकी हुई है। कहा जा रहा है कि उसका पैर भी जमीन को छू रहा था। साधना के पति अशोक के गाल, हाथ व सीने पर कई जगह नाखून के खरोच के निशान थे। पुलिस ने सोनू की तहरीर पर साधना के सास, ससुर व पति को हिरासत में ले लिया है। दो माह पूर्व ही साधना मायके से ससुराल आई थी। मौके पर पहुंचे क्षेत्राधिकारी हृदयानंद ¨सह वह थानाध्यक्ष विकास पांडेय ने मौका मुआयना किया।

विवाहिता की मौत को हत्या या आत्महत्या कहना अभी जल्दबाजी होगी। पीएम रिपोर्ट के बाद हम किसी निष्कर्ष पर पहुंच सकेंगे।

फिलहाल मृत विवाहिता के भाई सोनू की तहरीर पर साधना के पति अशोक, ससुर चंद्रिका व सास दुर्गावती के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

-विकास पांडेय, एसओ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *