विधायक डा. विरेंद्र यादव से पंगा लेना एसओ मरदह को पड़ा महंगा हुए लाईन हाजिर

गाजीपुर। जंगीपुर विधायक डा. विरेंद्र यादव से एसओ मरदह अखिलेश त्रिपाठी को पंगा लेना महंगा पड़ा। पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने एसओ मरदह अखिलेश त्रिपाठी को लाईन हाजिर कर उनके जगह सुरेंद्र कुमार पांडेय को मरदह का एसओ नियुक्‍त किया है। पिछले दिनों अखिलेश त्रिपाठी के कारनामों से परेशान जंगीपुर विधायक डा. विरेंद्र यादव ने पुलिस अधीक्षक से मिलकर उन्‍हे प्रार्थना पत्र दिया था कि एसओ मरदह के कार्यप्रणाली से पूरे क्षेत्र की जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। गरीब लोग परेशान हैं। क्षेत्र में अपराधियों का बोलबाला है। बिना सुविधा शुल्‍क लिये यह कोई कार्य नही करते हैं। विधायक ने पुलिस अल्टीमेटम दिया था कि 15 दिनों के अंदर अखिलेश त्रिपाठी को एसओ मरदह के पद से हटाया जाय नही तो वह थाने पर धरना करेंगे। सूत्रों के अनुसार विधायक के अल्‍टीमेटम की तारीख दस सितंबर को समाप्‍त हो रही थी इसके पहले ही उनका स्‍थानांतरण कर दिया गया1 इस संदर्भ में पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने बताया कि एसओ मरदह के उपर गंभीर आरोपों की जांच चल रही है। इसलिए उनको वहां से हटाकर पुलिस लाईन भेज दिया गया है। उनके जगह सुरेंद्र कुमार पांडेय को नियुक्‍त कर दिया है।