बसपा में बढ़ रहा अब्बास अंसारी का क़द जल्द मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

लखनऊ – बहुजन समाज पार्टी सुप्रिमो मायावती ने लखनऊ में हुई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में साफ संदेश दे दिया है कि बसपा में मुख्तार अंसारी परिवार का कद और बढ़ने वाला है। बसपा सुप्रिमो ने बैठक में कहा कि पार्टी कार्यकर्ता अब्बास अंसारी के निर्देशों का पालन करें। गौरतलब है कि अब्बास अंसारी इस बार संपन्न हुऐ विधान सभा चुनाव में घोषी विधानसभा सीट से प्रत्याशी थे जो मामूली अंतर से विधानसभा चुनाव हार गये थे।

आपको बता दें कि बसपा में आने के बाद बसपा ने अंसारी परिवार के तीन सदस्यों को टिकिट दिया था, जिसमें से सिर्फ मुख्तार अंसारी ही चुनाव जीत पाये थे। इनके अलावा मोहम्मदाबाद सीट से सिब्गतुल्लाह अंसारी, और घोषी से अब्बास अंसारी विधानसभा चुनाव हार गये थे। जबकि मऊ सीट से मुख्तार अंसारी लगातार पांचवी बार विधानसभा चुनाव जीतने में सफल रहे थे।

लगातार सक्रिय अब्बास-

बसपा क यह युवा नेता चुनाव हारने के बावजूद भी लगातार क्षेत्र में लोगों से मिलकर उनकी समस्याऐं सुन रहा है. स्थानीय लोगों के मुताबिक अब्बास हर रोज़ सुब्ह घर से निकल जाते हैं और शाम को लौट कर आते हैं। विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से अब्बास अब तक सौ से ज्यादा गांवों का दौरा कर चुके हैं।

मुआवजे की मांग-

अब्बास अंसारी ने हाल ही में गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से मरे बच्चों के परिजनों के  लिये 25-25 लाख रूपये मुआवजा देने की मांग की थी। गोरखपुर त्रासदी के दौरान अब्बास अंसारी ने बीआरडी कॉलेज का दौरा किया था और पीड़ितों से मिलने के बाद सरकार से मुआवजे की मांग की थी। आपको बता दें कि अब्बास अंसारी का परिवार पूर्वांचल की 30 सीटों को प्रभावित करता है।

अब्बास अंसारी अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी रहे हैं, वे डेढ़ सौ से के करीब देशों में भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं, 26 वर्षीय अब्बास को राजनीति विरासत में तो जरूर मिली है, लेकिन वे लगातार क्षेत्र में घूमकर अपनी खुद की पहचान बना रहे हैं, हालांकि उनके पिता मुख्तार अंसारी लगातार पांचवी बार विधायक निर्वाचित हुऐ हैं। लेकिन अब्बास विरासत की बैसाखियों को दरकिनार कर अपनी अलग पहचान बना चुके हैं।

सोशल मीडिया पर बढ़ रहा है क्रेज-

इस 26 वर्षीय अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी और बसपा नेता के प्रति लोगों की दीवानगी बढ़ती ही जा रही है, अब्बास अंसारी सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहते हैं, उनके फेसबुक पेज पर एक लाख से ज्यादा फॉलोवर्स हैं। और इन एक लाख में से ज्यादातर लोग हाल ही में अब्बास से जुड़े हैं।