डकैतों के साथ मुठभेड़ में जौनपुर का लाल शहीद, सीएम योगी ने जताया दुःख

Daroga martyr of Jaunpur encounter with the dacoits

यूपी के चित्रकूट में सात लाख के इनामी डकैत बबुली कोल के सा‌थ मुठभेड़ में यूपी पुलिस के जाबांज दरोगा जेपी सिंह शहीद हो गए। जेपी सिंह जौनपुर जिले के बनेवरा गांव के रहने वाले थे। मुठभेड़ की खबर सुनकर पूरा गांव शोक में डूब गया।

इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दरोगा जेपी सिंह के शहीद होने पर दुःख जताया है। सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा कि चित्रकूट में डकैत बबली कोल के साथ मुठभेड़ में शहीद हुए सब इंस्पेक्टर जेपी सिंह की वीरता को नमन व श्रद्धांजलि।

उधर, परिवार वाले तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण शहीद दरोगा का शव लाने के लिए चित्रकूट रवाना हो गए हैं। बताया जा रहा है कि बुधवार की शाम करीब छह बजे से पुलिस अधीक्षक प्रताप गोपेंद्र की अगुवाई में निही चिरैया के जंगल में पुलिस और डकैतों के बीच मुठभेड़ चल रही है।

मुठभेड़ में डाकू लवलेश कोल के मारे जाने की सूचना है। डकैतों के तीन असलहे भी बरामद हुए हैं। एक डकैत राजू कोल को भी गोली लगी है। उसे मानिकपुर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं मुठभेड़ के दौरान दरोगा जेपी सिंह को सीने में गोली लगी।

गंभीर रुप से घायल दरोगा को अस्पताल में ले जाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया है।