गाजीपुर में भतीजे ने चाचा को फावड़े से काटा, जो पकड़ने पहुंचा उसे भी दौड़ाया

 nephew killed his uncle in ghazipur

 

गाजीपुर जिले के करीमुद्दीनपुर थाना क्षेत्र के महुवारी अफलेपुर (बागा) गांव में भतीजे ने फावड़े से वार कर अपने चाचा को मौत के घाट उतार दिया। हमलावर को पकड़ने पहुंचे ग्रामीणों को भी उसने मारने को दौड़ा लिया। करीब आधे घंटे तक घटना स्थल पर अफरा-तफरी मची रही।

इस बीच हमलावर के सिर पर खून सवार देख लोग जान बचाकर भागते रहे। कुछ देर बाद दर्जनभर ग्रामीण लाठी-डंडे से लैस होकर मंदबुद्धि युवक को बल पूर्वक पकड़ लिया और रस्सी में बांधने के बाद पुलिस को 100 नंबर पर घटना की सूचना दी।

पुलिस हत्यारोपी को हिरासत में लेने के साथ ही खून से सना फावड़ा भी मौके से बरामद कर लिया। मृतक के शव को कब्जे में ले पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। जबकि मृतक के परिवार में रूदन-क्रंदन जारी है।

महुआरी अफलेपुर (बागा) गांव निवासी हरेराम यादव (45) प्रतिदिन की तरह खेत से मवेशियों के लिए चारा लाने गया था। वापस आने के बाद तेज धूप के कारण दरवाजे पर चारे का बोझ रखकर चौकी पर सो गया।

इसी बीच रिश्ते में लगने वाला भतीजा सोनू (22) पुत्र राजाराम यादव वहां पहुंचा और बगल में रखे फावड़े से उसकी गर्दन पर ताबड़तोड़ कई वार किया। हरेराम मौके पर ही दम तोड़ दिया। यह ह्रदयविदारक दृश्य देख घर की महिलाएं शोर मचाने लगी।

आवाज सुनकर ग्रामीण उसे रोकने के लिए आगे बढ़े, लेकिन ग्रामीणों को मारने के लिए उसने दौड़ा लिया। घटना स्थल पर काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही। हमलावर के सिर पर खून सवार था। यह देख लोग अपनी जान बचाकर भाग रहे थे।